Yogi Adityanath Contact Address, Phone Number, Email ID, WhatsApp Number

  MI Mobile service center & customer care number in Amritsar     Tripura RTO Code, Address, Phone Numbers     STAR Vijay / Vijay TV Customer Care, Complaints and Reviews     FedEx Vijayawada Toll Free Number, Customer Care Enquiry Phone Number, Email ID     Mydreamstore.in customer care contact number     Mangalore Airport - Kenjar Bajpe, Mangalore     Saregama.com Complaint & Customer Care Number     Samsung Authorized Mobile Service Center In Visakhapatnam     Saregama.com Complaint & Customer Care Number     BSEB Patna Office Phone No. Student Helpline No. Location Office Address in Patna  

Yogi Adityanath Contact Details


Yogi Adityanath Residence Address (Gorakhpur): 361, Old Gorakhpur, Shri Gorakhnath Mandir, Gorakhpur – 273 001 Uttar Pradesh.

Yogi Adityanath Residence Address (Delhi): 19, Gurudwara Rakab Ganj Road, New Delhi – 110 001.

Yogi Adityanath Phone Number: (0551) 2255453, 2255454, 09450966551(M), (011) 23092633

Yogi Adityanath Fax Number: (0551) 2255455

Yogi Adityanath Email ID: [email protected] / [email protected]

Yogi Adityanath Official Website: www.yogiadityanath.in

Yogi Adityanath is active on Facebook, Twitter and YouTube and we have shared its social profiles link here. One can get the latest updates about news, videos, social activities etc. of Yogi Adityanath from his social profiles.

Facebook Fan Page: facebook.com/pg/yogiadityanath

Facebook Profile: facebook.com/MYogiAdityanath

Twitter Handle: twitter.com/yogi_adityanath

YouTube Channel: youtube.com/user/VinayGautamMandir

Instagram Handle: instagram.com/yogiadityanath/


Vote
Result 14 votes
Not Useful Happy Somewhat Useful Useful Very Useful

Share Now Ask Question Reply Now Contact Submit Complaint

Customer Care


Major concerns of using bigo application

This is to bring to the notice of the ITsecurity team that certain people via bigo and like applications are using multiple fake Ids to dupe people and misusing the application. Also as an aware citizen of the country I want to point out that those involved with bigo application are given weird tasks and they get paid for it this is certainly a very dangerous sign and if not catered timely it will be a catastrophic disaster in the near future. I wish to appeal that the concerned teams must keep a serious check on bigo and like application.

January 25, 2020 SHUBHAM SHARMA

Scholarship

Sir/madam namesty Meri scholarship k form jama hona h uske liye please aaj log in open Kare de please
Shyamlal Saraswati , p. G. College . Shikarpur
Mai b. Ed 1st year ki student hu M

January 23, 2020 Vandana Mahendru

Yogi

Sir, mera yaha Sarak nahi banana hi sir AAP sa reguvest hi ki aap usprDinna di . Sir barasi ka Mausam me water bhar Jaya hi.gram Pradhan ispr koi dhaan nahi d Rahi hai address-dhaway (chaunwa) bhanpur basti u.p ,sir aap sai nibadan hi ki aap jaldi sa jaldi banawa ki kraip Kara. Thanks you

January 13, 2020 Ramesh Kumar

Help_Save My/Our Plot

Sir,
Mere plot ko authority ke dwara Toda ja rha hai, jabki maine puri payment dealer ko ki thi or court se registry bhi krayi hai, Please hmari help karen..
Mai brbaad ho jaunga agr ye plot tut gya ya authority ne hthia liya..
Maine already 8 lakh ka loan bhi le rkha hai iski EMI pay karne ke liye.


9711502735
Dharmveer

January 9, 2020 Dharmveer

B s p

९/,11 के बाद ही विशव शांती की सुरूआत होhttp://www.yojanagyan.in/up-cm-yogi-adityanath-mobile-number-whats-app-number-in-hindi/. जाती तो भारत मे रिपीट २६/११ नही होता और आज भारत स्यमभू विशव गुरू होता लेकिन अफसोस ऐसा नही हुआ अतः तब से अब तक हुई मौतो के लिये हमारा सीर्स नेत्रित्व जिम्मेदार है यह पृथ्वी की प्रथम मूल आवश्क्ता है भी है दूसरा मानव की प्रथम मूल आवश्क्ता सुद्ध पेयजल आखरी व्यक्ती तक उपल्बध कराना यूनीसेफ की रिपोर्ट २००६ के मुताविक सिर्फ भारत मे रिपीट २१ लाख वच्चो की मौत हुई जिसका प्रमुख कारण था दुर्सित पेयजल आपको यह बताने की आवश्क्ता नही है की दुर्सित पेयजल पीकर कोई भी महिला स्वस्थ वच्चे को जन्म नही दे सकती वह या तो मृत वच्चे को जन्म देती है यातो तो विकलांग वच्चे को जन्म देती है फिलहाल मे यह दोनो मामला पृथ्वी के न्यायधीस सनिमहराज सिगनापुर महाराष्ट्र की अदालत मे न्याय हेतू लगाया गया १२३४५६७८९ को यानि १२ बजकर ३४ मिनट ५६ सेकंड ७ तारिख ८ वा महीना ९ वा साल को यह वजह है यही वजह है जमीन सै आसमान तक विकाश की
लेकिन मामला भी वही है जज भी वही है अतः फैसला भी वही होगा ईस पर विचार करे और जगतपिता भोलेनाथ के १०००००००० पार्थिवसिवलिगं सिवलिगं के साथ १टन मेटल से निर्मित सनिसिवलिगं का विशव शांती अनुस्ठान मे हमारी मदत करे धन्यबाद आपका सुभचितंक एस के सिहं भिलाई मिनीभारत भारत
जय सनिशिवलिगं ९२११४१२१९

December 14, 2019 Santosh Kumar Singh

Help

Help me please sir please Mera jidagi tabah mat KARIYE PLEASE

December 13, 2019 Pramod kumar

Hs

Hamaare gam mean Koi bhi kam nahi ho raha hai Koi sunvai bhii nahi ho rahi hai CM ji se nivedan hai ki jaldi jach kari jaye

November 30, 2019 Harveer 8860107940 Singh

UP

Ayodhya Prasad ka Khet ka Koi Nahi Hui Sunwai Kesh ka Det 27/2/2018 Se

November 8, 2019 Mahesh Singh

Village Bhudabas ration dealer

Village Bhudabas teh bilari Moradabad m Reena Sharma n Galla nhi bata h or machine per finger le rakha h gher m Galla rakha h logo ko dhamki deta h

October 20, 2019 Pankaj Sharma

ADM LA के यंहा भ्रष्टाचार के सम्बन्ध में

सेवा में
श्रीमान मुख्यमंत्री जी उत्तर प्रदेश
महोदय ,
निवेदन है कि प्रार्थी ग्राम सभा तरी पाठकपुर खण्ड शुक्लपुर परगना तहसील बिल्हौर जिला कानपुर के निवासी है प्रार्थीगणों को ग्राम सभा की भूमि का आवंटन सन 2004 में किया गया था जिसमे तत्कालीन उपजिलाधिकारी श्री प्रहलाद सिंह के द्वारा सोमोटो की आख्या जिलाधिकारी महोदय को प्रेषित की गई थी जिसमे मुकदमा सरकार बनाम विमला देवी आदि पर चला था प्रार्थीगणो के आवंटन दिनांक 30.08.2008 को निरस्त कर दिये गये जिसके खिलाफ प्रार्थी अपरआयुक्त महोदय के यंहा निगरानी दाखिल की थी पार्थीगणो की निगरानी स्वीकार करके पुनः गुण दोष के आधार पर 20.10.2008 को पत्रावली वापस कर दी थी ।

प्रार्थीगणो के द्वारा तत्कालीन उपजिलाधिकारी महोदय को रजिस्टर्ड डाक के माध्यम से निगरानी स्वीकार करने की सुचना प्रेषित की गयी थी लेकिन शासन के दबाव में चलती निगरानी में ठाकुर प्रसाद व अशोक कुमार ,राजेन्द्र आदि को आवंटन कर दिए गए थे ।
आपको यह अवगत कराना है कि प्रार्थीगणो को 2004 में कब्जा व दखल करा दिया गया था लेकिन तत्कालीन उपजिलाधिकारी श्री प्रहलाद सिंह ने राजेन्द्र प्रसाद उर्फ मुन्ना लाल को आराजी संख्या 402,586 व शिवचरण को आराजी संख्या 425, 428,426 में कब्जा व दखल करा दिया गया था ।

20.10.2008 के रिमाण्ड आदेश के अनुसार पुनः विमला देवी आदि को नोटिस प्रेषित की गई थी पुनः साक्ष्य हेतु समय दिया गया और प्रत्येक तारीख पर प्रार्थीगण उपस्थिति होते रहे इसी बीच सत्ता के दबाव में 26.03.2010 को एकतरफा आदेश कराकर पत्रावली दाखिल दफ्तर करा दी गयी जिसकी प्रार्थी गणो को कोई जानकारी नही थी तथा प्रार्थीगणो को तारीख़ मिलती रही और मुकदमा चलता रहा।
प्रार्थीगणो द्वारा क्षेत्रीय लेखपाल के बयान दिनांक 08.01.2015 को कराये गये और पीठासीन महोदय द्वारा सत्यापित भी किये गये थे और प्रार्थीगणो को आवंटन दिनांक 02.03.2016 को बहाल कर दिए गये।
दिनांक 20.03.2016 के आदेश के खिलाफ ठाकुर प्रसाद व अशोक कुमार आदि ने अपर अयुक्त महोदय के यंहा निगरानी दाखिल की जिसे अपर आयुक्त महोदय ने दिनांक 06.05.2019 को निरस्त कर दी।
निगरानी निरस्त होने के बाद ठाकुर प्रसाद व अशोक कुमार आदि मा. उच्च न्ययालय में मुकदमा दाखिल किया और 26.03.2010 के आदेश की सर्टिफाइड कॉपी प्रेषित की जिसे उच्च न्यायालय ने स्वीकारते हुये पूर्व में किये गये आदेश को निरस्त कर दिया सिर्फ 26.03.2010 का आदेश माना है और दिनांक 04.09.2019 को अपना आदेश दे दिया था ।
दिनांक 26.09.2010 की सर्टिफिकेट कॉपी प्रेषित करने के बाद प्रार्थीगणो ने दाखिल दफ़्तर में जानकारी की तो प्रार्थीगणो को प्राप्त हुआ कि 1 ही मुकदमे की 2 फाइलें बनी हुई है ।
महोदय निवेदन है कि इसकी जांच उच्चाधिकारी से कराये जिससे कि प्रार्थी को न्याय मिल सके महान दया होगी ।
इस मामले की सम्पूर्ण जानकारी अटैचमेन्ट में दे रहा हु ।

मो. 9792501896

October 17, 2019 BRAJ NARAYAN